नेहा किरपाल का जीवन परिचय हिंदी में  | Neha Kirpal Biography in Hindi
Neha Kirpal Founder of India Art Fair

Neha Kirpal Biography: नमस्कार दोस्तों आज मैं आपको बताने वाला हूँ, Art प्रेमी Neha Kirpal के बारे में। जिन्होंने अपने life में बहुत बड़ी achievement हासिल की हैं, ये भारत कला मेला की संस्थापक और निदेशक हैं। तो आइए दोस्तों जानते हैं, Neha Kirpal का Biography, करियर, achievement और परिवार के बारे में विस्तार से। 

Neha Kirpal Biography 

नेहा किरपाल भारत कला मेला (India Art Fair) की संस्थापक और निदेशक हैं। हर भारतीय को कला सुलभ बनाने के उद्देश्य से 2008 में कला मेला शुरू किया गया था। मेले के पिछले 5 संस्करणों में भारत और दुनिया भर से 400,000 से अधिक प्रतिभागियों ने भाग लिया। दिल्ली में प्रतिवर्ष आयोजित होने वाला India Art Fair, भारत में कलाकारों, Creator, गैलरियों और कलेक्टरों का एकलौता सबसे बड़ा संगम (Art Hub) बन गया है। आँकड़े बताते हैं कि भारत कला मेला दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा कला मेला है

कला की कठिन दुनिया में, अपने परिश्रम और खुद पर विश्वास के कारण, नेहा किरपाल 6 साल की छोटी अवधि में इस सब को पूरा करने में कामयाब रही। वह कहती है कि मुझे कला की दुनिया के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं है। जब मैं एक छोटी लड़की थी, तो मुझे कला संग्रहालय (Art Museum) मेंजाना अच्छा लगता था। India Art Fair मेरे जैसे लोगों के लिए बनाया गया है। हमारा उद्देश्य कला को हर व्यक्ति के जीवन में उतारना है। कला ने मेरे जीवन में प्रवेश किया और इसने मुझे बदल दिया। मैं चाहती हूं कि कला हर व्यक्ति तक पहुँचे और हर व्यक्ति इसे अनुभव करे। 

  • Neha Kirpal एक Social Entrepreneur & Mental Health Ambassador भी हैं और InnerHour (2019) के co-founder हैं। 
  • 2008 में, इंडिया आर्ट फेयर की स्थापना की और पिछले बारह वर्षों में हर साल 1,50,000 से अधिक Turist और कलाकारों का अंतर्राष्ट्रीयकरण करके एक मजबूत टिकाऊ पारिस्थितिकी तंत्र का निर्माण किया है।

यह भी पढ़े जन्नत ज़ुबैर की जीवनी, आयु, बॉयफ्रेंड, करियर और परिवार के बारे में जाने

Neha Kirpal Family Wikipedia profile

Neha Kirpal Family, Neha Kirpal husband name
Neha Kirpal Family

Neha Kirpal के पिता एक Businessman थे। 
  • पूरा नाम (Full Name)  -  Neha Kirpal
  • उपनाम (Nick Name)  -  Neha
  • पति का नाम (Husband's Name)  -  Girish Kirpal
  • बेटी का नाम (Daughter's Name)  -  Ruhi Kirpal


Neha Kirpal का Education

Neha Kirpal का जन्म और पालन-पोषण दिल्ली में हुआ। वह सरदार पटेल स्कूल  से अपनी प्राथमिक शिक्षा ग्रहण की। इसके बाद लेडी श्रीराम कॉलेज  से राजनीति विज्ञान  में Graduation किया। बचपन से ही नेहा झुकाव कला और सांस्कृतिक गतिविधियों की ओर था।

वह SPICMACY के साथ एक Self-Helper थी और कॉलेज के बहुत सारे उत्सव, सम्मेलन और सेमिनार आयोजित करती थी। मेरे परिवार के किसी भी व्यक्ति को कला में कोई intrest नहीं थी। शायद मेरे दादाजी को छोड़कर, जो निजी तौर पर Painting किया करते थे।

Neha Kirpal कॉलेज के बाद, भारत में 4 साल तक मार्केटिंग, पीआर और इवेंट मैनेजमेंट में काम किया। इसके बाद वह इंग्लैंड में कला विश्वविद्यालय में अध्ययन करने का निर्णय ली। जब वह इंग्लैंड गई, जहाँ उन्हें समाज में कला की क्षमता का पूरा एहसास हुआ। इंग्लैंड में हजारों कला Museums और मेले थे और मुझे आश्चर्य हुआ कि हमारे देश भारत में ऐसा क्यों नहीं है, तभी मैंने ठान लिया की मुझे कुछ ऐसा ही अपने देश में बनना है। 

यह भी पढ़े अवनीत कौर का जीवनी, आयु, बॉयफ्रेंड, करियर और परिवार के बारे में जाने

हमारे देश के कला प्रेमी युवाओ जगाना 

नेहा किरपाल का जीवन परिचय हिंदी में  | Neha Kirpal Biography in Hindi

Neha Kirpal इस बात से सहमत थी कि भारत में बड़े पैमाने पर कला मेले अभी तक नहीं लगे हैं। नेहा को लगा कि यह विचार सोचने लायक था और मेरा मानना ​​है कि यह युवाओं की अज्ञानता भी थी। जब मैंने शुरुआत की, तो मुझे एक भी कलाकार के बारे में नहीं पता था। मेरे पास कोई पैसा नहीं था और मैं थोड़ी डरी हुई थी की यह मैं कैसे करुँगी। फिर भी मैंने शुरुआत की और एक बाहरी व्यक्ति के रूप में, शुरुआत में कला की दुनिया में भाग लेना आसान नहीं था। इसे चुनना एक कठिन क्षेत्र था।

लोगों को लगा कि मैं पागल हूं। कई लोगों ने कहा कि भारत में ऐसा कुछ करना असंभव है और अंतरराष्ट्रीय level पर ले जाना तो और असंभव है, लेकिन मुझे सिर्फ अपना विचार और इसे काम करने का दृढ़ विश्वास था। मैंने ठान लिया था कि मुझे ये कर के हर हल में दिखाना है और मैं यह अंतरास्ट्रीय level तक ले जोगी। 

जब भारत कला मेले के पहले संस्करण के बाद, लोगों ने यह देखा कि यह किया जा सकता है और इसमें क्या वृद्धि हो सकती है, अब लोगों ले हमारा समर्थन करना और बहुत से लोग हमारे पीछे रैली भी करने लगे। तब मुझे लगा कि लोग एक युवा महिला businesswomen की कहानी पर भी विश्वास करना चाहते थे, जो पूरी ईमानदारी से कुछ करने की कोशिश कर रही है।

एक साल के भीतर, कई कला प्रेमियों ने हमारे साथ साइन अप किया है, कुछ प्रमुख कलाकारों ने हमें समर्थन दिया है और जेएनयू (JNU) जैसे शैक्षणिक संस्थानों ने हमारे साथ हाथ मिलाया है। अब तक 4,00,000 लोग कला मेले में शामिल हुए थे। अब हम दुनियाँ की दूसरी सबसे बड़ी कला मेला भारत में आयोजन कर रहे हैं। अब हम प्रति वर्ष नई दिल्ली में भारत कला मेला का आयोजन कर रहे हैं। 

भारत कला मेला (India Art Fair) शुरू करने का उद्देश्य

नेहा किरपाल का जीवन परिचय हिंदी में  | Neha Kirpal Biography in Hindi

Neha Kirpal ने भारत कला मेला दो उद्देश्यों के साथ शुरू किया गया था। एक था भारतीय कला परिदृश्य को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर ले जाना और पूरी दुनिया को भारतीय कला के जादू से अवगत कराना और भारतीय कलाकारों और कला को एक ऐसा मंच प्रदान करना जो अद्वितीय हो और उसमें हम सफल हुए हैं।
आज, हम दुनिया में भारतीय कला का सबसे बड़ा प्रचारक हैं। 

दूसरा उद्देश्य अंतर्राष्ट्रीय कलाकारों को भारत में अपनी कला दिखाने और दिखाने के लिए एक मंच प्रदान कारण हमरा उद्देश्य था। हमें दुनिया भर के प्रमुख कला समुदायों के बीच जाने और बनाने का एक लंबा रास्ता मिल गया था। इसे हासिल करने के लिए हम हर रोज कड़ी मेहनत कर रहे हैं। वह संग्रहालयों, कलाकारों और छात्रों के साथ मिलकर काम करती हैं। वह कला को सार्वजनिक रूप से सुलभ बनाने के लिए हर स्तर पर प्रयास कर रही हैं।

India Art Fair में दुनिया भर के कला प्रदर्शनकारियों के साथ भागीदारी है, जो कला मेले के बारे में लिखते हैं, इनके पास 24 देशों के 91 बूथ थे और इनके पास दुनिया भर के प्रमुख वक्ता हैं। जिस तरह का ध्यान हम भारत की ओर आकर्षित करने और छोटे बजट के साथ इस तरह के पदचिह्न बनाने में सक्षम हुए हैं। पिछले पांच वर्षों में 4,00,000 लोग वास्तव में इसके साक्षी हैं और ये बढ़ते रहना चाहते हैं। ये चीजों का अंतर्राष्ट्रीयकरण भी करना चाहते हैं।

यह भी पढ़े अरिष्फा खान की जीवनी, आयु, बॉयफ्रेंड, करियर और परिवार के बारे में जाने

Neha Kirpal को भारत की क्षमता और अपने आप पर विश्वास था

नेहा किरपाल का जीवन परिचय हिंदी में  | Neha Kirpal Biography in Hindi

Neha Kirpal को अपने देश की कला पर पूरा विश्वास था और वह जानती थी की बस लोगों को कोई Platform अभी तक नहीं मिला है, अपने कला को प्रदर्शन करने के लिए तभी हमारे देश में कला प्रेमियों की कमी है। वह चाहती थी की भारत की कला भारत में ही नहीं बल्कि अंतराष्ट्रीय level तक होना चाहिए और यह करना संभव था। Neha Kirpal को खुद पर भरोसा था की वह कर सकती हैं और वह करेंगी।

नेहा को यह भी लगता है कि यह एक महान समय है, भारतीय महिलाओं के लिए Businesswomen बनने के लिए। वह भारत की क्षमता में और अपनी क्षमता में विश्वास करती थी। अब तक की अपनी यात्रा से, Neha ने दो मिथकों को तोड़ा - पहला कि भारत अंतरराष्ट्रीय मानकों के एक कला मेले की मेजबानी नहीं कर सकता है, इस गलत फहमी को तोड़ दिया और दूसरा उनके जैसे कोई भी व्यक्ति बिना किसी पृष्ठभूमि और कनेक्शन के ऐसा कर सकता है। उनका कहना है कि स्वयं में विश्वास करना बहुत महत्वपूर्ण है। नेहा किरपाल का मानना है कि भारत अभी जो है उससे बहुत अधिक उत्पादन कर सकता है।

Neha Kirpal का India Art Fair की स्थापना करने का सफर



 Neha Kirpal ने 60 लाख रुपए बैंक से ऋण के बाद अपनेसपने को पूरा करने के लिए बढ़ी। समकालीन कला को बहुप्रतीक्षित मान्यता देने के लिए, नेहा ने अपने सपने के तहत एक कला मेला आयोजित करने के लिए काम करना शुरू कर दिया। कलात्मक कला और सांस्कृतिक विरासत के साथ गूंजने वाले देश में, इंडिया आर्ट फेयर नाम से संस्थान की स्थापना की और अपनी सफलता के साथ आलोचकों को चौंका दिया। बेशक यह 24 देशों में फैले 106 दीर्घाओं के 1000 से अधिक कलाकारों को एक मंच प्रदान करना कोई बच्चों का खेल नहीं है। मेले की शुरुआत के बाद से, नेहा का प्रयास मेले में 2,60,000 से अधिक Turist को आकर्षित करता है।

Neha Kirpal Won Awards List

नेहा किरपाल का जीवन परिचय हिंदी में  | Neha Kirpal Biography in Hindi

  • 2015: वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम से यंग ग्लोबल लीडर्स अवार्ड  मिला है। 
  • 2015: राष्ट्रपति से नारी शक्ति  पुरस्कार मिला है। 
  • 2015, 2014, 2013: बिजनेस में सबसे शक्तिशाली महिलाओं के लिए बिजनेस टुडे का पुरस्कार मिला है। 

Neha Kirpal India Art Fair क्या है ?

India Art Fair जिसको हिंदी में भारत कला मेला बोलते हैं। यह एक platform है, जहाँ पर कला प्रेमियों को अपने कला प्रदर्शन करने के लिए मंच प्रदान किया जाता है। यह संस्थान अंतरास्ट्रीय level पर कार्य करती है और प्रति वर्ष नई दिल्ली में India Art Fair का आयोजन किया जाता है, इस सम्मेलन में कई देशो से कलाकार अपने देश की कला संस्कृति को प्रदर्शन करने आते हैं। 

Neha Kirpal से जुडी अन्य तथ्य

  • कला मेला भारत और दक्षिण एशिया के 1,100 से अधिक कलाकारों को एक वाणिज्यिक मंच प्रदान करता है और दुनिया के सबसे महत्वपूर्ण संग्रहालयों, क्यूरेटर और कलेक्टरों को आकर्षित करता है।
  • नेहा के अनुसार, कला मेले की सबसे बड़ी उपलब्धि लोगों तक पहुंचना है और शिक्षा उपलब्ध कराना है, जिससे व्यापक रुचि और जागरूकता पैदा की जा सके। 
  • एक दशक तक, नेहा ने रचनात्मक और सामाजिक क्षेत्रों में काम किया। भारत के पहले अंतर्राष्ट्रीय कला मेले की स्थापना करने के बाद, उसने एमसीएच बेसेल को कारोबार बेचने और मानसिक स्वास्थ्य के सीमांत क्षेत्र में अपना ध्यान केंद्रित करने से पहले इसे सफलतापूर्वक दस साल तक चलाया।
  • नेहा का पूरा ध्यान अब InnerHour पर है, जो एक डिजिटल मानसिक स्वास्थ्य मंच है, जिसके वैश्विक स्तर पर 100 से अधिक शहरों में आधे मिलियन उपयोगकर्ता हैं।
  • नेहा किरपाल एक प्रशिक्षित काउंसलर और मानसिक स्वास्थ्य देखभालकर्ता है।
यह भी पढ़े Taapsee Pannu Biography, Age, Boyfriend, करियर और परिवार के बारे में जाने

हमें इनसे क्या सीखना चाहिए



  • खुद पर विश्वास करो और अपने सपने को पूरा करने के लिए आगे बढ़ो।
  • साधारण व्यक्ति भी कुछ भी कर सकता है।
  • आलोचनाओं से कभी मत डरो।

Post a Comment

नया पेज पुराने